Jain Jagruti Cover page with index





Note: e-magazines contains only selected articles. To view entire magazine with color pages subscribe us.

Contents

  • अहिंसा मूर्ति भगवान महावीर
  • ॥ जिनेश्‍वरी ॥ अध्याय 24 - अष्ट प्रवचन माता
  • सौ. अलकाबेन गुजर - दीक्षा
  • कव्हर तपशील
  • भगवान महावीर और अहिंसा
  • हम महावीर को कितना जानते हैं ?
  • गुणग्राही हो, दृष्टी अपनी
  • खत्म करके दुनियादारी के सारे जंजाल महावीर को अपनाकर तुम हो जाओ खुशहाल
  • मैथुन
  • राष्ट्रीय एकात्मतेचे प्रतिक - जैन तत्त्वज्ञान
  • भगवान महावीर का सन्देश
  • अक्षय तृतीया उसाचा रस आरोग्य परंपरा
  • प्री-वेडिंग शुट के नाम पर फूहडता का प्रदर्शन
  • धर्माच्या कॉलम मध्ये जैन लिहा
  • सुखी जीवन की चाबियाँ - आठ दोष त्याग 3 - निंन्दनीय प्रवृति त्याग
  • हास्य जागृति
  • महावीर बनने की तैयारी करें ।
  • निवृत्ती के पश्‍चात जीवन आनंदमय एवं सुखी बनाने की पुँजी
  • प्रसन्न रहना जीवन का वास्तविक उद्देश
  • सन्मान
  • क्या माँगे प्रभु से ?
  • आयुष्या कडे पहाण्याचा दृष्टीकोन
  • एकता में विश्‍वास रख
  • सफलता का शॉर्टकट सोच को रखें हिमालय सा ऊँचा
  • शिष्य की शोभा : विनय में प्रवृत्ति
  • आत्म विजयाचा महामेरु - भगवान महावीर
  • रत्न संदेश
  • प्रासंगिक है, भगवान महावीर के संदेश
  • तपस्वी पंन्यास प्रवर श्री हंसरत्न विजयजी म.सा. 54 मासक्षमण
  • जीवन का परम मूल्य
  • स्पर्श चित्त की बाती का अनन्त ज्योती से
  • निसर्ग आणि माणूस
  • डायमंड डायरी
  • आचार्य अभयदेव सूरिजी म.सा.
  • शब्द सहना भी साधना है ।
  • काही मनातले काही म्यानातले
  • श्री राजेन्द्रजी सुराणा, पुणे - 65 वी
  • आनंदऋषिजी हॉस्पिटल, अहमदनगर
  • संचेती ट्रस्ट, पुणे - पाणपोई
  • कुमार डायलिसिस सेंटर, पुणे
  • राज मसाले, पुणे
  • सुर्यदत्ता ग्रुप, पुणे
  • डॉ. अशोक बोरा, चिंचवड - सन्मान
  • गौतमनिधी अब अमेरिका में
  • जैनीजम् फिलाटेली ग्रुप अधिवेशन
  • छाणी गाँव - दीक्षार्थी गाँव
  • प्राप्तीकर विवरण पत्र चर्चासत्र, पुणे
  • निखिल ग्रोसरी वर्ल्ड, आळंदी
  • डॉ. सौ. सुधा कांकरिया, पुरस्कार
  • वाचकांचे मनोगत
  • टँकर : पेट्रोलचा की पाण्याचा
  • सत्य का स्वीकार : जीवन का परिष्कार
  • क्रिम सेंटर, पुणे
  • विविध धार्मिक, सामाजिक व राजकिय बातम्या
  • इत्यादी...




« Previous

2018-3

next »

2018-5